मेरे सामने वाली लड़की को घर पे जा के चोदा

हेलो दोस्तों में रमेश आज आप को एक नै कहानी सुनाने जा रहा हु जो एक खूबसूरत लड़की के साथ सेक्स की है. लड़की का नाम नेहा है नेहा और में बचपन से फ्रेंड है नेहा मेंरे सामने वाले घर में रहती है. नेहा के घर वाले और मेरे मम्मी पापा बहुत अच्छे दोस्त है.हम दोनों 12th क्लास में पढ़ते है अलग अलग स्कूल में लेकिन हम दोनों एक दूसरे को कभी कभी घर की खिड़कियों से देखते है हलाकि हम दोनों एक दूसरे से इतना टच में नहीं है लेकिन वो दिन आगया जिस दिन हम दोनों का मिलान होनेवाला था।

ये उस टाइम हुआ था जब मेरे पापा और नेहा के पापा को बेस्ट फ्रेंड के लड़के की शादी थी और हम वह नहीं जा सकते थे क्यों की हम दोनों के एग्जाम चल रहे थे। तो नेहा के पापा ने मेरे पापा से कहा की यार रमेश को मेरे घर पे भेज दे नेहा और रमेश दोनों 12th के एग्जाम की पढाई एक साथ कर लेंगे। और ये बात मेने सुन लिया मुझे ये अजीब लगा लेकिन कही न कही मुझे भी नेहा से मिलना था तो में कुछ नहीं बोला।जब पापा ने मुझसे पूछा तो मेने भी है बोल दिया ठीक है पापा।

और फिर पापा मम्मी और नेहा पे पापा मम्मी शादी में चले गए और श्याम को नेहा के घर पे जाने से पहले 1 पैकेट कंडोम का लेके ही गया था क्या मालूम सेटिंग हो जावे। और वैसा ही हुआ में नेहा के घर पे गया और गेट पे गंटी बजे तो नेहा ने दरवाजा खोला तो में उसे देख के हकबका रह गया उसने स्लीव्स पहनी थी और शार्ट वाली फूल टाइट वाली ब्लैक लेंगी पहनी थी। अब क्या बताऊ आप को उस ब्लैक लेंगी में उसने अंडरवियर नहीं पहनी थी और स्लीवे में उसने ब्लैक कलर की ब्रा बहनी थी।

दोस्तों आप को क्या बताऊ उस ड्रेस में वो बला की खूब सूरत लग रही था और मेरा लण्ड को सूपड़ा मारने लग गया था उसे देखते ही। फिर वो बोली हेलो रमेश में बोला गुड इवनिंग और उसने मेरा वेलकम किया और बोला आजाओ अंदर। फिर हम दोनों सोफे पे बैठ के पढाई कर रहे थे हम दोनों आमने सामने बैठे थे। हम दोनों पढाई कर रहे थे लेकिन में तो नेहा को ही देख रहा था नेहा जुक के पढाई कर रही थी जिससे उसके बूब्स आसानी से मुझे दिक् रहे थे तो मेरा मन पढाई में तो बिल्किल नहीं लग रहा था। इस वजह से नेहा ने मुझे देख लिए की में पढाई नहीं उसे देख रहा हु तो वो सिधि होकर मेरे पास आके पढाई करने लगी।

और बोली क्या पढ़ रहे हो में बड़बड़ाहट में बोला कुछ नहीं और फिर वो मुस्कराकर मेरी तरफ देख के आखो से इसरा किया आप समझ गए कोनसा वाला तो में भी थोड़ा सरमाया और पढाई करने लगा। फिर नेहा ने धीरे से मेरे पैर पे हैट रक् दिया तो मेरा लैंड फूल टाइट हो गया बस नेहा के है का इंतजार था। नेहा ने हैट रखा तो में भी काम नहीं मेने भी उसका हाथ पकड़ के अपने लैंड रख दिया उस से नेहा फुल गरम हो गई और में जो बुक पढ़ रहा था वो उसने समेट ली और जल्दी से उठ कर मेरी तरफ मुँह कर के मेरे पेरो पे बैठ गई।

तो मेंने भी अपने दोनों हाथो से उसकी गांड को पकड़ लिया और मेरी तरफ खींचा और मेने उसके होठो की किस किया और वो किस करीबन 5 मिनट तक चला फिर मेने उसके स्लीव्स को अपने दोनों हाथो से पकड़ के उपहार की तरफ से खोल दिया। जैसे मेने उसके स्लीव्स खोला तो उसकी ब्रा देखते ही मेरा लैंड फुल टाइट हो गया और मेने नेहा को उठा के सोफे पे दाल दिया और उसकी ब्लैक शार्ट भी खोल दिया तो उसकी चुत एकदम गुलाबी थी मेने थोड़ी देर उसकी चुत को चाटा तो अब नेहा सहन नहीं कर पा रही थी

और और वो मेरे को धक्का मारा और कड़ी होके उसने मेरे टी-शर्ट और मेरा पेंट खोल दिया फिर उसने मेरी अंडरवियर के ऊपर से मेरे लैंड को पकड़ लिया और जब उसने मेरी चढ़ी खोली तो गबरा गई और बोली माधरचोद इतना मोटा और लण्ड का मालिक है तो और आज तक मेरी आखो से दूर था भेनचोद चल चल आजा आज मेरी चुत को फाड़ दे तेरे लैंड से तो में बोला साली रंडी कंडोम लगाऊ या बिना कंडोम के चेलगा तो बोली भोसड़ीके रसगुल्ले को थैली में दाल के चूस पायेगा क्या और इतना कह के वो मेरे लैंड को पूरा उसके मुँह में ले लिया और चूसने लगी करीबन 2 मिनट तक चूसने के बाद वो टंगे फैला कर सोफे पे सो गई

और बोली आजा भोसड़ीके फाड् से मेरी चुत को और में देर न करते अपने लोडे के उसके चुत पे प्रवेश कर दिया जब पूरा अंदर गया तो बोली की माधरचोद धीरे धीरे चोदना है कोई हैंडपंप नहीं खोदना है ये सुनकर मेने उसके मुँह में अपना मुँह लगा कर किस करते करते अपनी स्पीड बढाई और उसे भी धीरे धीरे मजा आने लगा और वो जोर जोर से चिल्ला रही थी और इंग्लिश में बोल रही थी की फ़क में बेबी ओह्ह ये कम ऑन बेबी फ़क मी हार्ड करीब २५ मिनट तक फुल चुदाई हुई और फिर हम दोनों का पानी निकल गया मेने अपना पानी उसके चुत पर डाल दिया और हम दोनों बाद में 12th की एग्जाम की प्रैक्टिस करने लग गए तो दोस्तों अगर आप को ये कहानी अछि लगी हो तो प्लीज शेयर जरूर करे थैंक्स।

Author: Fuck

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *