मेरी रसीली आंटी को जोरदार तरीके से चोदा

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम कौशल है सब मुझे प्यार से कार्तिक बुलाते हैं मैं जयपुर का रहने वाला हूं 1 दिन की बात है जब मैं अपने अंकल के घर पर गया था तो वहां मैंने अपनी आंटी को देखा मेरी आंटी बहुत ही सेक्सी लग रही थी उसने लाल कलर की साड़ी पहनी हुई थी और उनके बूब्स भी बहुत बड़े थे मेरे हिसाब से उनकी साइज के 36 28 36 और मेरी आंटी बहुत ही चालू टाइप की थी और मेरी जान कल एक ऑफिस में काम करते हैं सुबह 6:00 बजे जाते हैं और रात को 10:00 बजे आते हैं मैं मेरी आंटी को बहुत पसंद करता हूं लेकिन जब मैं स्कूल जा रहा था तब मैंने अपने आंटी को खिड़की से देखा बहुत खूबसूरत दिख रही थी जब वह अपने बाल बना रही थी मैं आपको बता दूं मैं अपने आप को याद कर कर बाथरूम में पानी निकलता यानी कि मुठ मारता हूं

एक दिन मेरे मम्मी पापा दिल्ली गए थे कुछ काम से तो मेरे को मेरे अंकल के घर पर छोड़ कर गए थे मेरी आंटी के पास और आप तो जानते ही हो कि मैं अपनी आंटी को चोदना चाहता हूं तो आप तो जानते मेरे अंकल रात को घर पर रहते हैं इसलिए मैं आंटी को रात को तो प्रपोज नहीं कर सकता इसके लिए दिन में ही कुछ न कुछ करना पड़ेगा।  सुबह हुई अंकल सुबह 6:00 बजे जॉब पर चले गए और आंटी मॉर्निंग में बाथरूम में नहाने गई तो मैं बाहर सोफे पर बैठा था आंटी नहा कर बाहर आई तो वह अपने शरीर पर तौलिया लपेट कर आई थी आंटी को मेरे से इतनी शर्म नहीं आती फिर मैं नहाने के लिए अंदर गया वहां आंटी की चड्डी अंदर ही पड़ी थी दो मैं आंटी की अंडरवियर को हाथ में लेकर सुनने लगा आंटी की चड्डी से बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी

मैं जब बाथरूम से नहा कर बाहर निकला तब आंटी बाथरूम की तरफ आ रही थी और मैं शरीर पर तोलिया बांध कर बाहर निकल रहा था और आंटी मेरे से टकरा गई और मेरा तो लिया नीचे के लिए मैं एकदम नंगा सा हो गया था मेरे शरीर पर कोई भी कपड़ा नहीं था और और आंटी टॉवल में थी जिसकी वजह से उनका भी टॉवल गिर गया। अब हम दोनों नंगे खड़े देख लो जी के सामने जिसकी वजह से आंटी थोड़ी शर्माए और आगे बंद कर दी कि मैं गंगा खड़ा था और मेरा लण्ङ एकदम तन के खड़ा था जैसे की आंटी की चुत में घुसने के लिए पूरी तरह से तैयार फिर आंटी ने धीरे धीरे आंखें खोली और मेरे को बोली देख कर नहीं सकते थोड़ा ध्यान रखो और तुम अंदर कपड़े पहन कर क्यों नहीं आए तो मैंने कहा कि आंटी मैंने अंदर कपड़े ले जाना भूल गया था सॉरी तो बोला कोई बात नहीं चलो कपड़े पहन ले हम दोनों अंदर कपड़े पहनने के लिए कमरे में चले गए।

मैं आंटी के पीछे पीछे चल रहा था आंटी मेरे आगे चल रही है मैं आंटी की गांड को देख कर मेरा लण्ङ पूरी तरह से खड़ा हुआ था तो जैसे हम आंटी के कमरे में पहुंचे आंटी ने पीछे मुड़ के देखा तो मेरा लण्ङ पूरी तरह से खड़ा था तो आंटी नहीं रहा है क्या है तुम्हारा इतना बड़ा क्यों हो रहा है जो मैंने कहा कि आंटी आपको देखकर मेरा मन कुछ और ही करने को हो रहा है तो आंटी ने कहा कि अच्छे काम के लिए देर क्यों चलो आ जाओ आंटी लण्ङ को पकड़ा और मेरे को खींचकर बेड की तरफ ले गई और कहा कि तुम खड़े रहो मैं तुम्हारे लण्ङ को थोड़ा चेक करती हूं।

फिर वह मेरे सामने बैठ गई और मेरे लण्ङ को मुंह में लेने लगी थोड़ी देर तक मुंह में चूसने के बाद वह बोली अब तुम्हारी बारी फिर मैंने आंटी को आप खङी हो जाओ मैं बैठ जाता हूं फिर आंटी टांगे फैलाकर खड़ी हो गई और मैं उनकी चुत को चाटने लगा थोड़ी देर चाटने के बाद आंटी की चुत में से पानी बाहर आने लगा जब मैं चुत चाट रहा था तब आंटी पूरी तरह मचल रही थी फिर आंटी बोली अब बस भी कर अब मुझे चोद डाल।

लेकिन मैं नहीं माना और उनकी चुत को चाहता रहा थोड़ी देर तक मैंने उनकी चुत को चाटा और फुल गर्म कर दिया आंटी बोली मादरचोद मुझे जल्दी चोद। फिर मैंने अपनी आंटी को गले में से पकड़े गए बेड पर धकेल दिया और आंटी बेड पर गिर गई और मैं आंटी पर गिर गया आंटी के बूब्स दबाने लगा फिर आंटी ने मुझे बेड पर गिराकर के वह मेरे ऊपर आ गई और मेरे लण्ङ को पकड़ लिया अपनी चुत के अंदर डालने लगी फिर मैंने भी देर ना करते हुए आंटी के बूब्स को दोनों हाथों से पकड़ लिया और दबाते हुए मैंने अपना लण्ङ आंटी की चुत के अंदर पूरा ढकेल दिया इसकी वजह से आंटी को थोड़ा सा दर्द हुआ और बोली मादर चोद धीरे डाल फिर मैंने आंटी को चोदना चालू किया धीरे-धीरे उनका दर्द भी ठीक हो गया और आंटी को मजा आ रहा था।

थोड़ी देर बाद आंटी जड़ गई थी और मैं भी झड़ने वाला था मैंने आंटी को कहा कि आंटी अपना पानी आपकी चुत में डालना है या बाहर तो आंटी बोली कि पानी मुंह में डाल तो इसकी वजह से मैंने थोड़ी स्पीड बढ़ा दी चोदने की फिर जैसे पानी बाहर आने वाला था मैंने आंटी को कहा कि आप जल्दी से साइट में हो जाओ मैं आप को पानी पिला देता क्रांति जल्दी से मेरे ऊपर से हट गई और मेरे लण्ङ को मुंह में ले लिया और मेरा सारा पानी मैंने पी लिया और कहा थैंक्यू अब हम जब हम कल बाहर जाएंगे तो रोज हमें से चदाई करते रहेंगे तो दोस्तों यह थी मेरी कहानी अगर पसंद आए तो प्लीज शेयर कर दीजिएगा थैंक यू

Author: Fuck

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *